The annual examination is of 80 marks, with a duration of three hours.

परीक्षा भार विभाजन
  विषयवस्तु उप भार कुल भार
1 अपठित गद्यांश व काव्यांश पर शीर्षक का चुनाव, विषय-वस्तु का बोध, अभिव्यक्ति आदि पर अति लघुत्तरात्मक एवं लघुत्तरात्मक प्रश्न   15
  (अ) एक अपठित गद्यांश (100 से 150 शब्दों के) (1×2=2) (2×3=6) 08
  (ब) एक अपठित काव्यांश (1×3=3) (2×2=4) (विकल्प सहित) 07
2 व्याकरण के लिए निर्धारित विषयों पर विषय-वस्तु का बोध, भाषिक बिंदु/संरचना आदि पर प्रश्न (1×15)   15
  व्याकरण  
  1 शब्द निर्माण (विकल्प सहित)
उपसर्ग – 2 अंक, प्रत्यय – 2 अंक, समास – 3 अंक
07
  2 अर्थ की दृष्टि से वाक्य भेद – 4 अंक (विकल्प सहित) 04
  3 अलंकार – 4 अंक
(शब्दालंकार अनुप्रास, यमक, श्लेष) (अर्थालंकार : उपमा, रूपक, उत्प्रेक्षा, अतिशयोक्ति, मानवीकरण)
04
3 पाठ्यपुस्तक क्षितिज भाग-1 व पूरक पाठ्यपुस्तक कृतिका भाग-1   30
  (अ) गद्य खण्ड 13  
    1 क्षितिज से निर्धारित पाठों में से गद्यांश के आधार पर विषय-वस्तु का ज्ञान बोध, अभिव्यक्ति आदि पर प्रश्न। (2+2+1) 05
    2 क्षितिज से निर्धारित गद्य पाठों के आधार पर विद्यार्थियों की उच्च चिंतन व मनन क्षमताओं का आंकलन करने हेतु प्रश्न। (2×4) (विकल्प सहित) 08
  (ब) काव्य खण्ड 13
    1 क्षितिज से निर्धारित कविताओं में से काव्यांश के आधार पर प्रश्न (2+2+1) 05
    2 क्षितिज से निर्धारित कविताओं के आधार पर विद्यार्थियों का काव्यबोध परखने हेतु प्रश्न (2×4) (विकल्प सहित) 08
  (स) पूरक पाठ्यपुस्तक कृतिका भाग-1 04
    कृतिका के निर्धारित पाठों पर आधारित दो प्रश्न पूछे जाएँगे (विकल्प सहित)। (2×2) 04
4 लेखन    
  (अ) विभिन्न विषयों और संदर्भों पर विद्यार्थियों के तर्कसंगत विचार प्रकट करने की क्षमता को परखने के लिए संकेत बिन्दुओं पर आधारित समसामयिक एवं व्यावहारिक जीवन से जुड़े हुए विषयों पर 200 से 250 शब्दों में किसी एक विषय पर निबंध। (10×1) 10 20
  (ब) अभिव्यक्ति की क्षमता पर केन्द्रित औपचारिक अथवा अनौपचारिक विषयों में से किसी एक विषय पर पत्र। (5×1) 05
  (स) किसी एक विषय पर संवाद लेखन। (5×1) 05
  कुल   80